Even their own women MPs are not safe under the rule of Aam Aadmi Party: Dr. Subhash Sharma-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 25, 2024 12:52 am
Location
Advertisement

आम आदमी पार्टी के राज में उनकी अपनी महिला सांसद भी सुरक्षित नहीं : डा. सुभाष शर्मा

khaskhabar.com : बुधवार, 15 मई 2024 6:33 PM (IST)
आम आदमी पार्टी के राज में उनकी अपनी महिला सांसद भी सुरक्षित नहीं : डा. सुभाष शर्मा
मोहाली/खरड़। भाजपा नेता डा. सुभाष शर्मा ने कहा कि चाहे पंजाब हो या दिल्ली। आम आदमी पार्टी नेताओं को न तो महिलाओं का सम्मान करना आता है और न ही महिलाओं से किए वादे को पूरा करना। इसका एक उदाहरण है आम आदमी पार्टी की ही राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के साथ दिल्ली सीएम हाउस में ही किया गया दुर्व्यवहार और दूसरा उदाहरण है पंजाब की महिलाओं को अभी तक 1000 रुपए प्रतिमाह न मिलना। जिसका ढिंढोरा आम आदमी पार्टी ने पंजाब के 2022 के विधानसभा चुनावों में जमकर पीटा था और आज तक पंजाब की एक भी महिला को यह राशि नहीं मिली है। 

डा. सुभाष शर्मा ने कहा कि स्वाति मालीवाल 13 मई को मुख्यमंत्री आवास पर गईं और वहां सीएम केजरीवाल के निजी सचिव विभव ने ड्राइंग रूम में उनके साथ दुर्व्यवहार किया। यह बहुत ही शर्मनाक घटना है और ये घटना जनता को यह सोचने पर मजबूर करती है कि जिस पार्टी के सीएम के घर में उनकी अपनी ही पार्टी की सांसद सुरक्षित नहीं हैं तो दिल्ली और पंजाब की महिलाएं आम आदमी पार्र्टी के शासन में खुद को सुरक्षित मानें।  
डा. सुभाष शर्मा ने कहा कि मान सरकार ने चुनावी वायदा किया था कि 18 वर्ष से अधिक आयु की महिलाओं को 1000 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे लेकिन आज तक इस वादे को पूरा नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि यह बहुत शर्मनाक है कि आप सरकार ने ललचाने वाले और झूठे वायदे करके पंजाब में सत्ता हासिल की। इनके द्वारा किए गए वादे पूरे न होने से पंजाब की महिलाओं में भारी निराशा है। उन्होंने कहा कि वास्तव में पंजाब की अर्थव्यवस्था ढह रही है और मान सरकार के पास विधानसभा चुनावों से पहले आप द्वारा किए गए वायदे पूरे करने के लिए पैसे नहीं हैं।
वोटर लिस्टों के आंकड़ों के मुताबिक पंजाब में करीब 1.3 करोड़ महिला मतदाता हैं। यदि सभी 1.3 करोड़ महिलाओं को 1000 रुपए प्रति महीने दिए जाएं, तो इसके लिए सालाना 15,600 करोड़ रुपए की जरूरत होगी, जबकि वास्तविकता यह है कि राज्य का खजाना खाली है और खर्चा चलाने के लिए कर्ज में डूबी आप सरकार कर्ज पर कर्ज ले रही है। इससे स्पष्ट होता है कि चुनावी वायदे पूरे करने की भगवंत मान और केजरीवाल की कोई मंशा नहीं हैं।
डा. सुभाष शर्मा ने खरड़ कोर्ट परिसर में वकीलों से मुलाकात की और मुलाकात के दौरान वकीलों ने अपनी मांगें उनके समक्ष रखीं। इन मांगों में बार एसोसिएशन को मजबूत करना, कचहरी में बार रूम एवं चैंबर को बढिय़ा करना शामिल है। इन मांगों को सुनने के बाद डा. सुभाष शर्मा ने आश्वासन दिया कि वे श्री आनंदपुर साहिब लोकसभा हलके से जीतकर इन सभी मांगों को पूरा करेंगे। 

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement