Now exercise plan will be made according to every sport in Sports Injury Rehabilitation Center in Panchkula-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 29, 2022 5:39 pm
Location
Advertisement

अब पंचकूला के स्पोर्ट्स इंजरी पुनर्वास केंद्र में हर खेल के अनुसार बनेगा एक्सरसाइज प्लॉन

khaskhabar.com : बुधवार, 05 अक्टूबर 2022 1:58 PM (IST)
अब पंचकूला के स्पोर्ट्स इंजरी पुनर्वास केंद्र में हर खेल के अनुसार बनेगा एक्सरसाइज प्लॉन
चंडीगढ़, । हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के निर्देश पर अब पंचकूला के स्पोर्ट्स इंजरी पुनर्वास केंद्र में हर खेल के अनुसार एक्सरसाइज प्लॉन बनाया जाएगा। प्रत्येक खिलाड़ी के प्रदर्शन को माइक्रो लेवल पर दर्ज किया जाएगा और उसमें कैसे सुधार किया जाए, इससे जुड़ी सलाह दी जाएगी। इस पुनर्वास केंद्र का मकसद खिलाड़ियों को खेल के दौरान लगने वाले चोट से उभारना और उनके प्रदर्शन में सुधार करना है।

एक सरकारी प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि इस स्पोर्ट्स इंजरी पुनर्वास केंद्र में प्रत्येक खेल से जुड़े खिलाड़ी लाभ उठा सकें, इसके लिए अब मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रत्येक खेल से जुड़ा एक्सरसाइज प्लान बनाने के निर्देश दिए हैं। एक्सरसाइज के लिए सुबह व शाम का टाइम टेबल होगा। प्रत्येक खिलाड़ी का नंबर आ जाए, इस तरह का शेड्यूल तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। बता दें कि हरियाणा की मनोहर लाल सरकार ने प्रदेश के खिलाड़ियों को उच्च स्तर की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए यह स्पोर्टस इंजरी पुनर्वास केंद्र खोला है। प्रदेश सरकार ने गुरुग्राम व प्रदेश के कुछ अन्य जिलों में भी नेशनल लेवल के साइंटिफिक प्रशिक्षण और पुनर्वास केंद्र बनाने का लक्ष्य लिया है।

अत्याधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर करवाया गया है उपलब्ध, खिलाड़ियों का प्रदर्शन सुधारने पर ध्यान

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि पंचकूला के स्पोर्ट्स इंजरी पुनर्वास केंद्र में अत्याधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध करवाया गया है। इस केंद्र में खिलाड़ियों के प्रदर्शन को सुधारने के लिए एनालिसिस मशीन, उनके प्रदर्शन को और बेहतर बनाने के लिए स्ट्रैंथन मशीन आदि की व्यवस्था की गई है। विज्ञान की मदद से किस तरह किसी खिलाड़ी के खेल को बेहतर बनाया जाए, इस पर जोर दिया गया है।
चोट से खिलाड़ी का कैरियर न खत्म हो इसलिए शुरू किए जा रहे पुनर्वास केंद्र


मुख्यमंत्री मनोहर लाल खेल व खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं। मुख्यमंत्री का मानना है कि खेल में चोटिल हो जाने की वजह से किसी खिलाड़ी का करियर खत्म नहीं होना चाहिए। इसलिए एक खिलाड़ी को पुनर्वास केन्द्रों की अत्याधिक आवश्यकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए हरियाणा में कई और स्पोर्ट्स इंजरी पुनर्वास केंद्र खोले जाने पर तेजी से कार्य चल रहा है।

खिलाड़ियों की धरा है हरियाणा
हरियाणा खिलाड़ियों की धरा है। भारत के खिलाड़ियों द्वारा अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं में प्राप्त कुल पदकों में से एक तिहाई पदक हरियाणा के खिलाड़ियों द्वारा जीते गए हैं। यही नहीं पैरालंपिक खेलों में भी हरियाणा का नाम दूसरे राज्यों से आगे है। प्रदेश के लिए मेडल लाने वाले खिलाड़ियों को दी जाने वाली पुरस्कार राशि देने में भी हरियाणा अग्रणी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement