We scored 30-40 runs short, which made a difference: Rohit Sharma-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Feb 7, 2023 7:34 pm
Location
Advertisement

हमने 30-40 रन कम बनाए, जिससे फर्क पड़ा : रोहित शर्मा

khaskhabar.com : सोमवार, 05 दिसम्बर 2022 1:34 PM (IST)
हमने 30-40 रन कम बनाए, जिससे फर्क पड़ा : रोहित शर्मा
ढाका | भारत के कप्तान रोहित शर्मा ने स्वीकार किया कि मीरपुर के शेर-ए-बांग्ला नेशनल क्रिकेट स्टेडियम में पहले वनडे मैच में बांग्लादेश से एक विकेट से मिली हार में खराब बल्लेबाजी को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि 30 से 40 रन और बन सकते थे। इसने मैच में काफी फर्क किया है। एक ऐसा लाइन-अप होने के बावजूद, जिसमें नंबर 9 तक बल्लेबाज उपलब्ध थे। भारत का धीमी पिच पर बल्ले के साथ निराशाजनक प्रदर्शन रहा, क्योंकि वे 41.2 ओवरों में 186 रनों पर ढेर हो गए। शाकिब अल हसन ने अपनी लाइन, लेंथ का अच्छे से इस्तेमाल किया और 36 रन देकर 5 विकेट लेने में सफल रहे, जबकि ईबादत हुसैन 47 रन देकर 4 विकेट लिए।

भारत के लिए केएल राहुल अकेले ऐसे बल्लेबाज थे, जिन्होंने 70 गेंदों में 73 रन बनाए और वाशिंगटन सुंदर के साथ 60 रन की साझेदारी की। यह पर्याप्त रन नहीं थे।

भारतीय कप्तान ने कहा, "30-40 रन और होते, तो हमारे लिए अच्छा होता। इसने मैच बड़ा फर्क किया। केएल राहुल और सुंदर के साथ हम बेहतर कुल पर पहुंच सकते थे। दुर्भाग्य से, हमने बीच में विकेट खो दिए और यह आसान नहीं रहा।"

रोहित ने कहा कि भारतीय बल्लेबाजों को स्पिनरों के खिलाफ बल्लेबाजी में एकजुट होकर खेलना होगा, क्योंकि पहले वनडे में उनके छह विकेट स्पिनरों के खाते में गए थे।

उन्होंने कहा, "पिच थोड़ी चुनौतीपूर्ण थी, गेंदें रुक कर आ रही थी। आपको समझना होगा कि कैसे खेलना है। कोई बहाना नहीं है, हम ऐसी परिस्थितियों के आदी हैं। हमें यह देखने की जरूरत है कि इन परिस्थितियों में उनके स्पिनरों के खिलाफ कैसे बल्लेबाजी की जाए।"

हालांकि भारत ने 186 के अपने बचाव में पहली ही गेंद पर एक विकेट लिया और 26 गेंदों के अंतराल में बांग्लादेश को 128/4 से 136/9 तक कर दिया। लेकिन मेहदी ने नाबाद 38 रन बनाए और 41 गेंदों पर 51 रनों की नाबाद आखिरी विकेट की साझेदारी की, जिसमें मुस्तफिजुर रहमान 10 रन बनाकर बांग्लादेश को जीत दिलाने में सफल रहे।

भारत ने आखिरी छह ओवरों में अपनी मजबूत पकड़ खो दिया और दबाव में आ गया। जैसे केएल राहुल ने कैच छोड़े, जब 15 रन पर मेहदी को बल्लेबाजी कर रहे थे। खराब फील्डिंग के साथ गेंदबाजी के अलावा ओवरथ्रो जिससे उनका नुकसान हुआ।

यह एक बहुत करीबी खेल था। हमने खेल में वापस आने के लिए बहुत अच्छा किया। हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की। 186 रन काफी अच्छे नहीं थे, लेकिन हमने काफी अच्छी गेंदबाजी की और उन्हें अंत तक दबाव में रखा। उन्होंने अपनी नसों को थामे रखा।

रोहित ने आगे कहा, अगर आप पीछे मुड़कर देखें कि हमने कैसी गेंदबाजी की, तो निश्चित रूप से आखिरी के कुछ ओवरों में हम विकेट नहीं ले पाए। लेकिन हमने 40 ओवरों तक काफी अच्छी गेंदबाजी की और हम लगातार विकेट लेते रहे।

अब भारत सीरीज में 1-0 से पीछे है और बुधवार को उसी स्थान पर दूसरा एकदिवसीय मैच है, रोहित चाहते हैं कि मेहमान टीम बेहतर करें। उन्होंने कहा, मैं वास्तव में नहीं जानता कि वे एक-दो अभ्यास सत्रों में कितना सुधार कर सकते हैं। ये लोग ऐसी परिस्थितियों में खेलते हुए बड़े हुए हैं।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement