Unique marriage in Jewana for environmental protection Billi tree married to Lord Devnarayan-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 23, 2024 5:44 pm
Location
Advertisement

पर्यावरण संरक्षण के लिए जेवाना में अनूठा विवाह, बिल्ली वृक्ष का भगवान देवनारायण से कराया गया विवाह

khaskhabar.com : बुधवार, 12 जून 2024 10:33 PM (IST)
पर्यावरण संरक्षण के लिए जेवाना में अनूठा विवाह, बिल्ली वृक्ष का भगवान देवनारायण से कराया गया विवाह
उदयपुर । जिले के मावली तहसील के ग्राम जेवाना में बुधवार को अनूठा विवाह सम्पन्न कराया गया। स्थानीय भाषा में बिल्ली कहे जाने वाले वृक्ष का विवाह भगवान देवनारायण के साथ कराया गया। इसके पीछे उद्देश्य पर्यावरण संरक्षण और पर्यावरण संवर्द्धन का रहा। ग्रामीणों ने बताया कि सनातन संस्कृति में वृक्षों का देवतुल्य महत्व बताया गया है। लगातार बढ़ रहे पर्यावरण संकट के दौर में संस्कृति के अनुरूप व्यवहार को जनमानस तक पहुंचाना ही ऐसे आयोजन का उद्देश्य है।


विवाह समारोह नाथू बा का कुआ पर हुआ। पूरा विवाह तुलसी विवाह की तर्ज पर हिन्दू परम्परा के अनुसार किया गया। विवाह क्षेत्र के लोगों मे चर्चा का विषय बना रहा। विवाह समारोह को गाडरी समाज के स्वयंसेवकों द्वारा बड़े बुजुर्गों के निर्देशन मे शास्त्र सम्मत सम्पन कराया गया। इस कार्यक्रम में क्षेत्र के विभिन्न गांवों के लोगों ने सहभागिता निभाई।

विवाह समारोह प्रातः 5 बजे शुभ लग्नवेला में हवन के साथ शुरू हुआ जो प्रातः 7 बजे सम्पन्न हुआ। विवाह समारोह के लिए 5 जोड़े यजमान के रूप में हवन वेदी पर बैठे, उन्होंने मंत्रोच्चार के साथ आहुतियां देते हुए विवाह संस्कार में भाग लिया। 7 बजे बाद पहरावणी का आयोजन किया गया जिसमें बारातियों और घरातियों ने भाग लिया। दोपहर भोजन के बाद बारातियों को सीख देकर विदा किया गया। इससे दो दिन पूर्व विनायक स्थापना व दोवड़ा के साथ रक्षा सूत्र बन्धन कार्यक्रम भी रखा गया था।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement