On the occasion of Netajis birth anniversary, a demand was raised from the stage to make Akhilesh Yadav the Prime Minister.-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 22, 2024 8:29 pm
Location
Advertisement

नेताजी की जयंती के मौके पर मंच से अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री बनाने की उठी मांग

khaskhabar.com : बुधवार, 22 नवम्बर 2023 7:58 PM (IST)
नेताजी की जयंती के मौके पर मंच से अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री बनाने की उठी मांग
इटावा। सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव की जयंती के मौके पर इटावा के सैफई में आयोजित कार्यक्रम में मंच से पार्टी के पदाधिकारियों ने आगामी लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री बनाने के लिए कार्यकर्ताओं से कमर कसने को कहा है।


सपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरण मय नंदा ने कहा कि मुलायम सिंह सिर्फ यूपी के नहीं, पूरे हिंदुस्तान के नेता थे। उनकी लोकप्रियता साउथ में भी थी। वह किसी कारण से देश के पीएम नहीं बन पाए। हालांकि, खुद ज्योति बसु चाहते थे कि नेताजी प्रधानमंत्री बनें। अब 2024 के लोकसभा चुनाव में अवसर आया है। यहां सबसे ज्यादा सीटें समाजवादी पार्टी को जिताएं और अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री बनाया जायेगा।

सपा के राष्ट्रीय महासचिव शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि नेताजी हमारे बड़े भाई के साथ-साथ गुरु भी थे। उन्होंने पढ़ाया भी था। पिता जैसा स्नेह मिला। हम सबको सरलता और गरीबों-किसानों और गांव को कभी न छोड़ने की सीख दी। उन्होंने कभी निराश न होने की सीख दी। नेताजी ने अन्याय के खिलाफ लड़ना सिखाया। उनके मन में अल्पसंख्यक, गरीबों-किसानों के लिए हमेशा पीड़ा रहती थी। हम सब जितने भी लोग बैठे हैं, सभी देश की कुर्सी पर पहुंचना चाहते थे। नेताजी चाहते तो वहां तक पहुंच जाते, लेकिन उनमें त्याग था। जब-जब सत्ता में नेताजी आए तब स्वास्थ्य, शिक्षा और सड़क के लिए काम किया। नेताजी और अखिलेश यादव की जब सरकार बनी, तो काम हुए।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि तमाम लोगों से विचार विमर्श और दुनिया भर के समाज सुधारकों के स्मारकों के बारे में जानने के बाद तय किया कि अमेरिका के राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन के स्मारक की तर्ज पर सैफई में नेताजी की याद में भव्य स्मारक बनाया जाएगा। नेताजी जिस मिट्टी में पैदा हुए, पले-बढ़े और ऊंचाईयों तक पहुंचे, उसी मिट्टी पर नेताजी का ऐतिहासिक स्मारक बन रहा है।

उन्होंने कहा कि नेताजी का स्मारक बनने के बाद यह स्थान आने वाली पीढ़ी के लिए प्रेरणा का स्थान बनेगा। यह प्रकाश स्तम्भ की तरह काम करेगा। नेताजी ने अपने जीवन में ऐसे-ऐसे फैसले लिए जिसने देश की राजनीति को मोड़ने का काम किया है। देश के सामने जब भी संकट आया, नेताजी और समाजवादियों ने आगे बढ़कर देश को बचाने का काम किया है।

सपा के राष्ट्रीय प्रमुख महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव ने कहा कि आज समाजवादियों के लिए बहुत बड़ा दिन है। अखिलेश यादव ने शुभमुहूर्त में नेताजी की याद में मेमोरियल का शिलान्यास किया। यह विश्वविख्यात और प्रेरणादायक होगा। यह स्मारक अनन्त काल तक अन्याय के खिलाफ लड़ने वालों और लाखों समाजवादियों को प्रेरणा देने का काम करेेगा।

पूर्व सांसद उदय प्रताप सिंह ने कहा कि नेताजी अपने-पराए सबका दिल जीतना जानते थे। वे सम्मान देना और दिलाना भी जानते थे। पैसा कभी चुनाव नहीं जिताता है, संगठन के बूते लड़ा जाता है। उनके बताए रास्ते पर चलना बड़ी श्रद्धांजलि होगी। जब नेताजी का स्मारक बनकर तैयार होगा तो बहुत भव्य होगा।

मैनपुरी से सांसद डिंपल यादव ने कहा कि नेताजी के विचार हमेशा हमारे और आने वाली पीढ़ियों के साथ रहेंगे। नेताजी के व्यक्तित्व के बारे में जितनी बात की जाए कम है। उनके लिए सबसे प्रिय समाजवादी पार्टी और समाजवादी परिवार था। नेताजी स्वयं में एक क्रांति थे। ऐसी क्रांतियां हम सबके जेहन में जीवित रहेगी।
--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement