Narendra Modi asks what Congress did in 55 years we will give its list - Kharge-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 23, 2024 2:56 pm
Location
Advertisement

नरेंद्र मोदी पूछते हैं कि कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया, वो भूल जाते हैं कि इंदिरा गांधी ने सेना के लिए गहने तक दे दिए - खड़गे

khaskhabar.com : बुधवार, 15 मई 2024 7:01 PM (IST)
नरेंद्र मोदी पूछते हैं कि कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया, वो भूल जाते हैं कि इंदिरा गांधी ने सेना के लिए गहने तक दे दिए  - खड़गे
रायबरेली। कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी मनमानी से सरकार चलाते हैं। उनके अंदर बहुत अहंकार आ गया है। इसलिए, एक बात तय हो गई है कि इंडिया गठबंधन जीतने वाली है। भाजपा सत्ता से जाने वाली है।


बुधवार को रायबरेली और अमेठी में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सिर्फ झूठ बोलती है। कांग्रेस पार्टी के साथ रायबरेली और अमेठी का रिश्ता 100 साल का है। पीएम मोदी आज गांधी परिवार को गाली देते नहीं थकते। वे इंदिरा गांधी और राजीव गांधी पर भी अपनी राजनीतिक टीका-टिप्पणी करते हैं। वह भूल जाते हैं कि वो देश के दो पूर्व प्रधानमंत्रियों के बारे में बात कर रहे हैं, जिन्होंने इस देश के लिए अपना सब कुछ लुटा दिया। यहां तक की अपनी जान भी कुर्बान कर दी।

उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की शहादत का मजाक उड़ाने के लिए कहते हैं कि वो ऐसा कानून लाए, जिससे वो इंदिरा की संपत्ति हड़प सकें। मगर मोदी भूल जाते हैं कि पंडित नेहरू ने अपनी 98 फीसद सम्पति देश को समर्पित कर दी थी। जिसकी आज कुल कीमत करीब 12 हजार करोड़ रुपये होगी।

उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी ने हमारी सेना के लिए अपने गहने तक दे दिए। नरेंद्र मोदी पूछते हैं कि कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया? कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया, हम उसकी लिस्ट दे देंगे। आप अपने 10 साल का हिसाब दीजिए। पीएम मोदी ने कभी 15 लाख रुपए देने की बात की तो कभी 2 करोड़ नौकरियां देने की। लेकिन, किया कुछ भी नहीं।

उन्होंने कहा कि अगर सत्ता के लिए लड़ते तो 2004-2009 में सोनिया गांधी देश की प्रधानमंत्री बन जातीं। लेकिन, उन्होंने कहा कि वो प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहती, वो सिर्फ देश की सेवा करना चाहती हैं। लेकिन, आज देश में सत्ता के लिए लड़ने वाले लोग हैं। राहुल गांधी रायबरेली के शेर हैं, गरीबों के लिए लड़ने वाले सिपाही हैं। रायबरेली को फिरोज गांधी से लेकर इंदिरा गांधी, सोनिया गांधी, सभी ने संभाला है। अब राहुल संभाल रहे हैं। वह कहते हैं कि रायबरेली हमारी कर्मभूमि है, हम यहीं से लड़ेंगे और यहीं पर अपने लोगों का मार्गदर्शन करेंगे।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement