More than 20,000 youth got jobs under the chairmanship of Colonel Rajyavardhan Rathore-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 13, 2024 12:14 am
Location
Advertisement

कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ की अध्यक्षता में 20,000 से अधिक युवाओं को मिली नौकरी

khaskhabar.com : शनिवार, 29 जून 2024 5:40 PM (IST)
कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ की अध्यक्षता में 20,000 से अधिक युवाओं को मिली नौकरी
जयपुर। कौशल नियोजन एवं उद्यमिता मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ की अध्यक्षता में शनिवार को टैगोर इंटरनेशनल स्कूल ऑडिटोरियम मानसरोवर जयपुर में मुख्यमंत्री रोजगार उत्सव का आयोजन किया गया। इस दौरान कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने राजस्थान के करीब 20 हजार से अधिक नव नियुक्त कर्मचारियों को बधाई और शुभकामनाएं दी। रोजगार उत्सव समारोह में नवनियुक्त कार्मिकों को जॉइनिंग लेटर भी दिए गए।

इस दौरान कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि मुख्यमंत्री रोजगार उत्सव राज्य सरकार की युवाओं को रोजगार प्रदान करने की प्रतिबद्धता का सजीव उदाहरण है। यह उत्सव युवाओं के लिए हमारी सरकार के ठोस कदमों और योजनाओं को प्रदर्शित करता है।
कर्नल राठौड़ ने कहा कि राजस्थान सरकार हर साल 70 हजार युवाओं को नौकरी देगी। इसके अलावा और रोजगार के अवसर भी मिलेंगे। एंटी चीटिंग टास्क फोर्स बनाने के बाद युवाओं का विश्वास फिर से कायम हुआ है। भविष्य में हर नई भर्ती में सिलेक्ट हुए युवाओं को जॉइनिंग लेटर देने के लिए बड़े समारोह किए जाएंगे।
कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने कहा कि फिजिकल और डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर का मजबूती से विस्तार, हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में आज भारत में फिजिकल और डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर पर जो काम हुआ है, उसका बड़ा लाभ राजस्थान को भी मिल रहा है।
कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने कहा, रोजगार मेला रोजगार सृजन को सर्वोच्च प्राथमिकता देने की प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धता को पूरा करने की दिशा में एक बड़ा कदम है। अक्टूबर 2022 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रोजगार मेले का पहले फेज की शुरुआत की थी। फरवरी 2024 तक केंद्र सरकार 12 रोजगार मेले का आयोजन कर चुकी है। इन रोजगार मेलों में करीब 8 लाख से ज्यादा युवाओं को जॉइनिंग लेटर दिए गए हैं।
कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने कहाकि आज राजस्थान समेत पूरे देश में निजी और सरकारी सेक्टर दोनों ही जगह नौकरियों के निरंतर नए मौके बन रहे हैं। बहुत बड़ी संख्या में हमारे नौजवान स्व-रोजगार के लिए भी आगे आ रहे हैं। स्टार्ट-अप इंडिया और स्टैंड-अप इंडिया जैसी योजनाओं ने युवाओं की क्षमताओं को बढ़ाया है। मुद्रा और समर्थ योजना ने करोड़ों युवाओं की मदद की है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement