Maharal Dakhyoda drinking water scheme may be closed if pump operator helper fitters are not paid-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 22, 2024 8:31 pm
Location
Advertisement

पंप ऑपरेटर हेल्पर फीटरो को भुगतान न होने पर महारल दख्योड़ा पेयजल स्कीम हो सकती है बंद

khaskhabar.com : बुधवार, 12 जून 2024 8:15 PM (IST)
पंप ऑपरेटर हेल्पर फीटरो को भुगतान न होने पर महारल दख्योड़ा पेयजल स्कीम हो सकती है बंद
हमीरपुर। मुख्यमंत्री के गृह जिला में पेयजल स्कीम को चलाने वाले ठेकेदारों को काफी अरसे पेमेंट न होने के चलते आर्थिक स्थिति डगमगा गई है। जल शक्ति विभाग की महारल सर्किल के अंतर्गत ठेकेदारों के माध्यम से स्कीमों पर रखे गए पंप ऑपरेटर ,फीटर, हेल्पर स्कीमों को खड़ा करने पर मजबूर हो गए हैं। लगभग पिछले 4 महीनो से इनको किसी प्रकार का भुगतान नहीं हो पाया है। महारल दख्योड़ा पेयजल स्कीम में लगभग नौ कर्मचारी अस्थाई तौर पर ठेकेदार के माध्यम से जल शक्ति विभाग द्वारा रखे गए है। प्रतिमाह 5000 रूपए ठेकेदार के माध्यम से दिया जाता है, लेकिन पिछले चार महीना से इनका एक फूटी कौड़ी भी नहीं मिली है। महारल दखयोडा फेस 1, महाराल दखयोडा फेस 2, टिहरी, बग्गी इत्यादि स्कीमों पर यह लोग काम करते हैं, लेकिन इनका अब यह कहना है कि पैसे की अदाएगी नहीं हुई तो स्कीमो में खड़ी करने को मजबूर हो जाएंगे। अगर ऐसा होता है तो कहीं न कहीं आम जनता को ही पेयजल समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इन स्कीमो पर कार्य करने वाले तरसेम अमन रोहित गौरव इत्यादि ने बताया कि पिछले चार महीना से एक भी पैसे की अदायगी भी नहीं हुई है। जिसके चलते मजबूरन हमें स्कीमे खड़ी करनी पड़ सकती है।


इस संदर्भ में जब ठेकेदार सुशील कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सारे बिल जल शक्ति विभाग के पास जमा करवा दिए गए हैं जैसे ही बिल अप्रूव होंगे पेमेंट कर दी जाएगी।

क्या कहते हैं एक्शन आईपीएस डी आर चदेल मामला ध्यान में है फर्स्ट क्वार्टर की 20 लाख के करीब पेमेंट विभाग के पास आ गई है। एक-दो दिन में ठेकेदारों के खातों में भेज दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पेयजल स्कीम पर रखे कर्मचारियों को पेमेंट करने की जिम्मेदारी ठेकेदार की होती है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement