Industries coming to Punjab from abroad too, law and order better in the state: Arvind Kejriwal-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 22, 2024 8:09 pm
Location
Advertisement

विदेश से भी पंजाब में आ रही इंडस्ट्री, प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर बेहतर : अरविंद केजरीवाल

khaskhabar.com : रविवार, 26 मई 2024 4:16 PM (IST)
विदेश से भी पंजाब में आ रही इंडस्ट्री, प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर बेहतर : अरविंद केजरीवाल
फिरोजपुर। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पंजाब के फिरोजपुर में आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्रेडर्स के साथ एक सभा की । इस दौरान उन्होंने दावा किया कि पहले के मुकाबले पंजाब में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिती में काफी सुधार हुआ है।


उन्होंने कहा कि पंजाब में हमारी सरकार को बने दो साल हुए हैं। हमारी सरकार बनने के पहले यहां इंडस्ट्री और व्यापार की इतनी बुरी हालत थी कि यहां से इंडस्ट्रीज मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान जैसे दूसरे राज्यों में शिफ्ट हो रहीं थीं। लेकिन, दो साल में पंजाब से इंडस्ट्रीज का बाहर जाने का सिलसिला खत्म हुआ, अब बाहर से पंजाब में इंडस्ट्रीज के आने का सिलसिला शुरू हो गया है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पिछले दो साल में देश भर में घूम-घूमकर इंडस्ट्री मालिकों से मुलाकात की। उनसे बात की और आज इंडस्ट्री मालिकों ने पंजाब में 56 हजार करोड़ रुपयेे का निवेश शुरू कर दिया है। जमशेदपुर के बाद टाटा स्टील का सबसे बड़ा प्लांट पंजाब में लग रहा है।

उन्होंने कहा कि जर्मनी, नीदरलैंड समेत अन्य विदेशी देश पंजाब में इन्वेस्टमेंट करने जा रहे हैं। इसके पीछे की वजह लॉ एंड ऑर्डर है। जब भी कोई बड़ी इंडस्ट्री कहीं निवेश करने की सोचती है, तो सबसे पहले वह देखती है कि वहां लॉ एंड ऑर्डर की क्या स्थिति है।

पंजाब की पूर्व सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि हमारी सरकार से पहले यहां का लॉ एंड ऑर्डर बहुत खराब था। आज पंजाब में अमन शांति है, लॉ एंड ऑर्डर में काफी सुधार है। मैं ये नहीं कहता हूं कि सब कुछ 100 प्रतिशत ठीक हो गया है, काफी कुछ करने की जरूरत है और करेंगे, लेकिन अगर यहां इतनी बड़ी संख्या में इंडस्ट्री आ रही है, तो काफी कुछ ठीक हो गया है।
--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement