Caithalab, project successful in Ambala, treats 36 patients in a week-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 28, 2023 9:44 am
Location
Advertisement

अंबाला में सफल रहा कैथलेब प्रोजेक्ट, एक सप्ताह में 36 रोगियों का इलाज

khaskhabar.com : मंगलवार, 19 दिसम्बर 2017 5:36 PM (IST)
अंबाला में सफल रहा कैथलेब प्रोजेक्ट, एक सप्ताह में 36 रोगियों का इलाज
अंबाला। नागरिक अस्पताल अंबाला छावनी में शुरू की गई कैथलैब में मात्र एक सप्ताह में करीब 3 दर्जन हृदय रोगियों का सफल उपचार किया गया है। यह सुविधा देश में पहली बार किसी सरकारी अस्पताल में पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर उपलब्ध करवाई जा रही है, जिसको प्रथम चरण में प्रदेश के 3 अन्य जिलों में शुरू किया जा रहा है।

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि इस कैथ लैब में एक सप्ताह में ही 13 मरीजों को स्टंट डाले गए हैं, 20 मरीजों की एंजियोग्राफी तथा तीन मरीजों को ओपन हॉर्ट सर्जरी का परामर्श दिया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के नागरिकों को यह सुविधा निजी अस्पतालों की तुलना में करीब एक चौथाई कीमत पर दी जा रही है। दिल के रोगियों को मात्र 46 हजार रुपए में स्टंट डाले जा रहे है, जिसके लिए पीजीआई चंडीगढ़ में करीब डेढ़ लाख रुपये खर्च होते हैं। इतना ही नही, हरियाणा के बीपीएल, अनुसूचित जाति के लोगों को यह सुविधा नि:शुल्क दी जा रही है।

विज ने बताया कि कैथ लैब शुरू करने के मात्र एक सप्ताह की अवधि में 85 मरीजों की हृदय संबंधी बीमारियों का निरीक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि अंबाला के इस अस्पताल में उत्तर प्रदेश, पंजाब तथा हिमाचल के लोग भी उपचार के लिए आ रहे हैं। इसके अलावा फरीदाबाद, पलवल तथा गुरूग्राम में भी यह सुविधा शीघ्र शुरू की जाएगी, जिसके बाद इस सुविधा का पूरे प्रदेश में विस्तार किया जाएगा।

नागरिक अस्पताल अंबाला छावनी की इस कैथ लैब में मस्तिष्क स्ट्रोक से बचाने के लिए की जाने वाली एंजियोप्लास्टी, नसों की ब्लोकेज के कारण पैर कटने जैसी स्थिति से बचाने के लिए पैरों की एंजियोप्लास्टी तथा रक्तचाप नियंत्रण के लिए गुर्दों की धमनियों की एंजियोप्लास्टी की सुविधा भी उपलब्ध हैं। इस केन्द्र पर ईको, टीएमटी, होल्टर, इंजियोग्राफी, एंजियोप्लास्टी, स्टेंडरी प्लास्टरी, पेसमेकर जैसी सुविधाएं उपलब्ध हैं। इसके लिए विशेषज्ञ चिकित्सकों को लगाया गया है।

अंबाला के सिविल सर्जन ने बताया कि इस समय अस्पताल में 5 रोगियों का अभी तक नि:शुल्क निरीक्षण किया गया है। इनमें से एक रोगी महिला ऐसी भी हैं, जोकि पैसों की कमी के कारण पीजीआई चंडीगढ़ से सिविल अस्पताल अंबाला छावनी पंहुची हैं। इस समय हृदय आरोग्य केन्द्र में 16 मरीज भर्ती हैं जिनमें से 6 रोगियों की एंजियोग्राफी की गई है। मरीजों की देखभाल के लिए आईसीयू में वैंटिलेटर सहित 11 बिस्तरों की व्यवस्था की गई है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement