Amit Shah said Congress people should understand they will not respect Pakistan and will also ask for PoK-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 23, 2024 2:04 pm
Location
Advertisement

अमित शाह बोले - कांग्रेसी नेता कहते हैं कि पाकिस्तान के पास परमाणु बम है,उन्हें सम्मान दो...मैं कहता हूं हमसे ऐसी उम्मीद ना करें...

khaskhabar.com : बुधवार, 15 मई 2024 8:05 PM (IST)
अमित शाह बोले - कांग्रेसी नेता कहते हैं कि पाकिस्तान के पास परमाणु बम है,उन्हें सम्मान दो...मैं कहता हूं हमसे ऐसी उम्मीद ना करें...
दिल्ली। लोकसभा चुनाव के पहले देश के बड़े नेताओं के इंटरव्यू का सिलसिला लगातार जारी है। इसी क्रम में अमित शाह ने एक न्यूज एजेंसी को दिए गए इंटरव्यू में कांग्रेस और राहुल गांधी पर बड़ा हमला बोला है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि फारूक अब्दुल्ला, कांग्रेस नेता कहते हैं कि पाकिस्तान के पास परमाणु बम हैं, उन्हें सम्मान दो, PoK मत मांगो।


अमित शाह ने कहा कि क्या 130 करोड़ आबादी की परमाणु शक्ति वाला भारत किसी से डरकर अपना अधिकार छोड़ देगा ? राहुल बाबा को देश को समझाना चाहिए कि उनके गठबंधन के नेता क्या कह रहे हैं, पाकिस्तान का सम्मान करें ? PoK छोड़ें?..कभी नहीं। अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी को इस बारे में सोचना चाहिए कि देश के लोग देश से बहुत प्यार करते हैं ऐसे में में उनके नेताओं के बयान देश की जनता को आहत करने वाले नहीं होने चाहिए।

बंगाल पर बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि जब इस बार मैं वहां रैली कर रहा था तो मुझे इस बात को एहसास हुआ कि यहां के लोगों में टीएमसी सरकार के खिलाफ कड़ी नाराजगी है। उन्होंने कहा कि मैं ये जिम्मेदारी के साथ बोल सकता हूं कि इस बार बंगाल में 25 से 30 सीटें आएंगी।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के वायनाड (केरल) और राबरेली (उत्तर प्रदेश) से लड़ने पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कोई भी कहीं से भी चुनाव लड़ सकता है लेकिन राहुल गांधी को चुनाव से पहले कहना चाहिए था कि वे 2 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रहे हैं। मुझे लगता है कि लोकतांत्रिक दृष्टिकोण से इसे छिपाना सही नहीं है। उन्हें वायनाड के लोगों को इसके बारे में बताना चाहिए था।जब आप चुनाव के बाद के सर्वेक्षण में खतरा देखते हैं और फिर आप रायबरली आते हैं, मुझे लगता है यह सही नहीं है।

काशी विश्वनाथ मंदिर और कृष्ण जन्मभूमि पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ये दोनों मामले अदालत के समक्ष हैं। कोर्ट ने भी इसका संज्ञान लिया है। इस पर मेरा कुछ भी कहना उचित नहीं होगा। कोर्ट के फैसले के बाद ही हमने राम मंदिर बनाने का फैसला किया।
अमित शाह ने कहा कि हमारे 400 पार के नारे को विपक्ष ने कम दूर की दृष्टि से देखकर इसका राजनीतिकरण करने की कोशिश की है। मैं निश्चित रूप से मानता हूं कि स्थिर सरकारें देश को ताकत देती हैं, स्थिर सरकारें निर्णायक कदम उठाने में सहायक होती हैं, स्थिर सरकारें गरीबों का कल्याण करने में सहायक होती हैं, स्थिर सरकारें आतंकवाद और नक्सलवाद जैसे खतरों को कुचल देने में सहायक होती हैं और स्थिर सरकारें देश के एजेंडे और स्थिति को दुनिया में बदलने में भी सहायक होती हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement