AI will be used for security in Mahakumbh 2025-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Feb 3, 2023 10:34 pm
Location
Advertisement

महाकुंभ 2025 में सुरक्षा के लिए एआई का इस्तेमाल किया जाएगा

khaskhabar.com : मंगलवार, 29 नवम्बर 2022 3:33 PM (IST)
महाकुंभ 2025 में सुरक्षा के लिए एआई का इस्तेमाल किया जाएगा
प्रयागराज । महाकुंभ 2025 में पूर्ण सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार ड्रोन और क्लोज-सर्किट टेलीविजन (सीसीटीवी) कैमरों के अलावा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) का उपयोग करेगी। सूत्रों ने कहा कि, प्रयागराज पुलिस ने मेगा धार्मिक मेले के लिए उपकरण और अन्य व्यवस्थाओं के लिए 400 करोड़ रुपये के बजट का प्रस्ताव भेजा है।

जिला पुलिस महाकुंभ-2025 में बड़ी संख्या में आने वाले वीवीआईपी, वीआईपी और विदेशी पर्यटकों के साथ तीर्थयात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करेगी।

इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हालिया प्रयागराज दौरे के दौरान उनके समक्ष एक प्रस्तुति दी जा चुकी है।

प्रयागराज के एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने कहा कि, इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आईसीसीसी) को अपग्रेड कर हाईटेक और बेहतर गुणवत्ता वाले सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे जबकि उनकी संख्या भी बढ़ाई जाएगी।

उन्होंने कहा, "उच्च गुणवत्ता वाले कैमरे सुरक्षा कर्मियों को संदिग्धों की पहचान करने और उनका पता लगाने में सक्षम बनाएंगे। इसके अलावा, महाकुंभ मेले के हर कोने पर कड़ी निगरानी रखने के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता तकनीक का उपयोग किया जाएगा।"

उन्होंने कहा, "महाकुंभ के दौरान ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों पर भी कड़ी निगरानी रखी जाएगी। हर पुलिसकर्मी को एक रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन या आरएफआईडी कार्ड दिया जाएगा, जिसके जरिए कंट्रोल रूम को पता चल जाएगा कि वे किसी भी समय अपने ड्यूटी प्वाइंट पर हैं या नहीं।"

उन्होंने कहा कि, सुचारू यातायात के लिए भी विशेष इंतजाम किए जाएंगे।

महाकुंभ-2025 से पहले पुलिसकर्मियों और पुलिस थानों के आवासों का भी उन्नयन किया जाएगा और कुंभ-2019 के दौरान बनाए गए बैरकों का नवीनीकरण कर पुलिसकर्मियों को प्रदान किया जाएगा।

शिवकुटी, जार्ज टाउन और झूंसी सहित संगम क्षेत्र के मार्ग के पुलिस थानों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

प्रयागराज पुलिस ने विशेष नाव और सुरक्षा उपकरण भी मांगे हैं। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि, किसी भी अप्रिय स्थिति को टालने के लिए हाईटेक उपकरण और ड्रोन खरीदे जाएंगे।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement