Abhay Chautala said- will form a separate organization in the assembly elections will not include Congress and BJP-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 12, 2024 11:27 pm
Location
Advertisement

अभय चौटाला बोले- विधानसभा चुनाव में बनाएंगे अलग संगठन कांग्रेस और भाजपा को नहीं करेंगे शामिल

khaskhabar.com : रविवार, 23 जून 2024 4:38 PM (IST)
अभय चौटाला बोले- विधानसभा चुनाव में बनाएंगे अलग संगठन कांग्रेस और भाजपा को नहीं करेंगे शामिल
रेवाड़ी। ऐलनाबाद से इनेलो विधायक अभय चौटाला आज कार्यकर्ता मीटिंग लेने रेवाड़ी पहुंचे। कार्यकर्ता मीटिंग के उपरांत उन्होंने एक पत्रकार वार्ता को भी सम्बोधित किया। उन्होंने भाजपा सरकार और हुड्डा पर जमकर निशाना साधा। साथ ही पानी के मुद्दे पर भी जमकर बोले।


उन्होंने कहा कि इंडिया अलायंस राष्ट्रीय स्तर पर बना था जिसका प्रदेश स्तर पर कोई असर नहीं है। विधानसभा में इनेलो एक अलग संगठन बनाएगी जिसमे अनेक पार्टियों से बात करके उन्हें संगठन में शामिल करेंगे । उन्होंने कहा की विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस में भगदड़ मच जाएगी। जब किसी पार्टी का ग्राफ गिरता है तो उसके नेता उन्हें छोड़कर जाते हैं।

कांग्रेस के कई सीनियर लीडर जल्दी कांग्रेस को अलविदा कहने वाले हैं। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भूपेंद्र हुड्डा ने भाजपा को फायदा देने के लिए राज्यसभा चुनाव लड़ने से इंकार किया है। उन्होंने कहा कि जब दीपेंद्र हुड्डा के लिए मुझसे वोट मांग सकते है तो क्या राजयसभा को लेकर मुझसे बात नहीं कर सकते।

भाजपा को एक राज्य सभा सीट मिले इसको लेकर हुड्डा भाजपा की मदद कर रहे हैं। अविश्वास प्रस्ताव लाकर के भाजपा को आक्सीजन देने का काम भी भूपेंद्र हुड्डा ने ही किया। भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जो गलत काम किए है। उसके कारण ईडी और सीबीआई का डर है जिस दिन भूपेंद्र सिंह हुड्डा दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल की तरह विरोध करेंगे उन्हें भी उठकर अंदर कर दिया जाएगा।

वहीं दिल्ली में चल रहे जल संकट के सवाल पर अभय चौटाला ने कहा कि दिल्ली में कोई भी जल संकट नहीं है। बल्कि जल संकट हरियाणा में है पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार ने SYL का पानी हरियाणा को देने से रोका हुआ है और वही दिल्ली मे आम आदमी पार्टी की सरकार पानी के लिए रो रही है। हरियाणा में बीजेपी की सरकार है जो उन्हें अभी पानी दिया जा रहा है अगर प्रदेश में इंडियन नेशनल लोकदल की सरकार होती तो नहर बंद कर दी जाती और एक बूंद पानी दिल्ली को तब तक नहीं दिया जाता ज़ब तक हरियाणा को उसके हिस्से का SYL का पानी नहीं मिल जाता।

इनेलो द्वारा अलग गठबंधन बनाए जाने में जजपा को शामिल करने पर बोले अगर हमारा परिवार ही ठीक होता तो 2019 में भाजपा नहीं बल्कि इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी की सरकार बनती। जजपा भाजपा की एजेंट है और उसी के रूप में उन्होंने काम किया है। उन्होंने भाजपा को सत्ता में लाने का काम किया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement