There is a dispute between husband and wife about these things, the relationship comes on the verge of breaking-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 29, 2022 4:28 pm
Location
Advertisement

इन बातों को लेकर होती है पति-पत्नी में तकरार, टूटने की कगार पर आता है रिश्ता

khaskhabar.com : गुरुवार, 08 सितम्बर 2022 1:30 PM (IST)
इन बातों को लेकर होती है पति-पत्नी में तकरार, टूटने की कगार पर आता है रिश्ता
हमें अक्सर यह सुनाई दे जाता है कि जहाँ प्यार होता है, वहाँ तकरार जरूर होती है। कहने को तो यह एक साधारण संवाद नजर आता है, लेकिन यह अपने आप में गहन अर्थ रखता है। यह संवाद दो लोगों के बीच होने वाले लड़ाई-झगड़े को समझाने के लिए काफी है। हर दम्पत्ति यह चाहता है कि वो अपने साथी के साथ हँसी-खुशी अपनी जिन्दगी को गुजारे लेकिन कभी-न-कभी किसी-न-किसी बात पर आपस में तू-तू-मैं-मैं हो जाती है। कई बार यह टकराव गम्भीर मोड़ ले लेता है और पति-पत्नी के रिश्ते में दरार पडऩे लग जाती है। यह दरार इतनी बढ़ जाती है कि रिश्ता टूटने की नौबत आ जाती है। हालांकि कुछ बातों को ध्यान में रखा जाए तो इस लड़ाई झगड़े की समस्या से बचा जा सकता है। आज हम अपने पाठकों को कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जिनको ध्यान में रखते हुए इस लड़ाई-झगड़े से बचा जा सकता है।

झूठ बोलना
झूठ आपको कुछ देर के लिए तो बचा सकता है लेकिन कभी न कभी सच सामने जरूर आता है। अक्सर लोग बातों को छुपाने के मकसद से झूठ बोल देते हैं। इससे कुछ समय के लिए तो परिस्थिति नियंत्रण में रहती है लेकिन सच पता लगने पर बात संभालना मुश्किल हो जाता है। सही यही है कि आप हमेशा अपने साथी को सब कुछ सच-सच बता दें। झूठ बोलने की वजह से दम्पत्ति के बीच विश्वास कम होता है।

शक करना
कई बार ऐसी परिस्थिति भी आती है जब हम अपने पार्टनर पर शक कर बैठते हैं। ऐसा करने से भी रिश्तों के बीच दरार आती है और लड़ाई होती है।

अपने साथी की बातों को ना समझना

अपने साथी की बातों को ना समझने से अक्सर दम्पत्ति के बीच में लड़ाई शुरू हो जाती है। दो लोगों की किसी भी बात पर अलग मत हो सकते हैं लेकिन हमेशा दूसरे की बातों को दबाना गलत है। ऐसे में जरूरी है कि आप अपने साथ-साथ सामने वाले की बातों को भी समझे। ना सिर्फ समझे बल्कि वो ऐसा क्यों कह रहे हैं यह भी जानने की कोशिश करें।

स्पेशल फील ना कराना
हम सभी चाहते हैं कि हमें कोई ना कोई स्पेशल फील कराए, फिर चाहे हमारे बर्थडे हो या वेडिंग एनिवर्सरी। ऐसे में बहुत बार हम अपने काम में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि हमें स्पेशल फील कराना तो दूर विश करना तक याद तक नहीं रहता है। ऐसी छोटी-छोटी बातों से साथी को बहुत बुरा महसूस होता है। उन्हें लगने लगता है कि उनकी कोई अहमियत नहीं है। अगर आप काम में व्यस्त भी हैं तो भी कुछ दिन बाद का प्लान बनाकर स्पेशल फील करा सकते हैं।

दूसरों को ज्यादा तवज्जो देना
किसी का भी पार्टनर होने के नाते यह हमारा फर्ज बनता है कि हम उसे तवज्जो दें। उसकी केयर करें और हमेशा उसके साथ खड़े हों। ऐसा न होने पर लोगो को अकेला महसूस होता है और इसी वजह से तकरार शुरू होती है।

नोट—यह लेखक के अपने विचार हैं। जरूरी नहीं कि आप इन विचारों से सहमत हों।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement