Get relief from swelling and pain after injury with these home remedies-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 23, 2024 4:13 pm
Location
Advertisement

इन घरेलू उपायों से पाए चोट लगने के बाद आई सूजन और दर्द से निजात

khaskhabar.com : सोमवार, 10 जून 2024 10:49 AM (IST)
इन घरेलू उपायों से पाए चोट लगने के
बाद आई सूजन और दर्द से निजात
भागदौड़ भरे जीवन में हर कोई जल्दबाजी में रहता हैं जिसकी वजह से कई बार चलते हुए अचानक चोट लग जाने की घटना सामने आती है। देखने को मिलता है कि चोट वाली जगह पर दर्द और सूजन का अहसास होता है। इस तरह की अंदरूनी चोट में दर्द भी बहुत होता है। लेकिन लोग व्यस्तता के चलते इन चोट पर ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं। अगर चोट को नजरअंदाज किया जाए तो यह बड़ा रूप ले सकती है और तकलीफ बढ़ सकती है।



आज हम अपने खास खबर डॉट कॉम के पाठकों को कुछ ऐस घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिनके इस्तेमाल से चोट के बाद उठी सूजन और दर्द से राहत पाई जा सकती है।

बर्फ से सिकाई

तीव्र चोट के बाद पहले 72 घंटों में, सूजन को कम करने का सबसे अच्छा तरीका है शीत संकुचन का प्रयोग करना। ठंडा तापमान तंत्रिकाओं पर एक सुन्न प्रभाव डालता है, जो बदले में सूजन को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। एक पतली तौलिया में कुछ बर्फ के टुकड़े लपेटें तथा प्रभावित स्थान पर 10 मिनट के लिए इस पैक को रखें। हर 3 से 4 घंटे में यह विधि दोहराएं। बर्फ के टुकड़ो की बजाय, आप मटर के एक जमे हुए बैग का इस्तेमाल भी कर सकते हैं ताकि एक ठंडा संपीड़न हो। नीम का पेस्ट

नीम में एंटी इंफ्लामेटरी और एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, चोट और दर्द से छुटकारा पाने के लिए आपको नीम का पेस्ट ट्राय करना चाहिए। इसके लिए ताजी नीम की पत्तियों को धोकर सुखाकर लें। सुखाने के बाद उन्हें पीसकर रख लें। आप चाहें तो इस पेस्ट में गूलर के पत्तों को भी पीसकर डाल सकते हैं, उससे चोट जल्दी ठीक हो जाती है। फिर इस पेस्ट को दर्द वाली जगह लगा लें, कुछ समय में आपकी समस्या दूर हो जाएगी।

एलोवेरा


लगभग हर मर्ज की दवा कहे जाने वाले एलोवेरा में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाये जाते हैं। जिससे दर्द को कम करने में काफी सहायता मिलती है। उपचार प्रक्रिया को तेज करने में एलोवेरा जेल बेहद कारगर सिद्ध होता है। इसका इस्तेमाल आप घाव वाली जगह पर कर सकते हैं। एलोवेरा में ब्लड क्लॉटिंग को भी कम करने की क्षमता होती है। जिसके कारण खून का थक्का नहीं जमता।
सेंधा नमक

चोट के बाद सूजन और दर्द को कम करने की बात आती है तो सेंधा नमक बहुत मददगार है। मैग्नीशियम सल्फेट से बना होने के कारण, सेंधा नमक रक्त परिसंचरण में सुधार लाता है और तनावग्रस्त मांसपेशियों को आराम देता है। चोट लगने के 48 घंटे बाद आप सेंधे नमक का उपयोग शुरू कर सकते हैं। गर्म पानी से भरें एक छोटे टब में सेंधे नमक के 2 बड़े चम्मच मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र जैसे पैर या हाथ को 10 से 15 मिनट के लिए टब में डुबो कर रखें। यह प्रक्रिया सप्ताह में 3 बार दोबारा दोहराएं। पैर या कंधे जैसे चोटिल बड़े अंगो के लिए, आप एक सेंधा नमक वाले बाथ टब में बैठ सकते हैं। शहद और चूना

शहद और खाने वाले चूना का इस्तेमाल कर आप चोट और दर्द से राहत पा सकते। इन दोनों ही चीजों में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो, चोट के कारण उत्पन्न हुए दर्द को खींच लेते है। इसके लिए आपको पीड़ा वाले स्थान पर थोड़ा से शहद में उसका पच्चीस फीसदी हिस्सा चूना मिलाकर लगाएं। शरीर के ग्रस्त अंग पर लगने के बाद यह आपको थोड़ा गर्म लगेगा। साथ ही, चूने में मौजूद कैल्शियम के कारण मिश्रण लगाया जाने वाले स्थान की स्किन ड्राई भी हो सकती है, लेकिन इससे घबराएं नहीं इससे आपके चोट में गर्म तासीर जा रही है। जिससे आसानी से आपको समस्या से निजात मिलेगी।



नोटइस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य हैं और सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement