Five different short duration courses for students and teachers in IIT Mandi-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 6, 2022 4:19 am
Location
Advertisement

आईआईटी मंडी में छात्रों व शिक्षकों के लिए छोटी अवधि के पांच अलग-अलग कोर्स

khaskhabar.com : गुरुवार, 22 सितम्बर 2022 6:18 PM (IST)
आईआईटी मंडी में छात्रों व शिक्षकों के लिए छोटी अवधि के पांच अलग-अलग कोर्स
नई दिल्ली । आईआईटी मंडी युवा पीढ़ी के कौशल विकास के लिए छोटी अवधि के पांच अलग-अलग कोर्स शुरू कर रहा है। आईआईटी के यह कोर्स इंजीनियरिंग की चुनौतियों का व्यावहारिक ज्ञान देकर प्रतिभागियों को रोजगार योग्य बनाएंगे और जॉब मार्केट के लिए तैयार करेंगे। आईआईटी के सेंटर फॉर कंटिन्युइंग एडुकेशन (सीसीई) के तहत हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम (एचपीकेवीएन) के सहयोग से शुरू होने वाले यह कोर्स केवल एक माह की छोटी अवधि के हैं। कोर्स के लिए निशुल्क पंजीकरण शुरू हो गया है। इसके साथ ही आईआईटी प्रतिभागियों को निशुल्क भोजन, आवास और शिक्षण सामग्री भी प्रदान करेगा।

इस कोर्स में आईटी, डिप्लोमा, इंजीनियर के छात्र, कार्यरत इंजीनियर, हिमाचल प्रदेश के प्रौद्योगिकी संस्थानों के पोस्ट ग्रैजुएट और पीएच.डी. छात्र, शिक्षक सभी आमंत्रित हैं। यह कोर्स ऐसे सभी लोगों के लिए खुले हैं जो वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग अनुसंधान कार्यों में उत्कृष्टता प्राप्त करने की प्रबल इच्छा रखते हैं। इनमें एंबेडेड सिस्टम का व्यावहारिक ज्ञान कोर्स, इंडस्ट्रियल सिस्टम्स के लिए मॉडल प्रेडिक्टिव कंट्रोल, कम्प्यूटेशनल फ्लूइड डायनामिक्स का व्यावहारिक प्रशिक्षण, इंजीनियरिंग के लिए फाइनाइट एलिमेंट मॉडलिंग और प्रोडक्ट डिजाइन और मैन्युफैक्च रिंग का व्यावहारिक ज्ञान कोर्स शामिल है।

नए कोर्स के बारे में प्रो. तुषार जैन, प्रमुख, सेंटर फॉर कंटिन्युइंग एडुकेशन (सीसीई) ने बताया, स्कूल कैंप में रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (प्रयास 1.0) पर केंद्रित पहले कोर्स की सफलता देख कर हम पांच नए कोर्स लॉन्च करने जा रहे हैं। ये कोर्स एचपीकेवीएन, शिमला के सहयोग से हिमाचल की युवा पीढ़ी का कौशल विकास करेंगे। कोर्स में इंजीनियरिंग विषयों की कुछ खास ब्रांच का लक्ष्य रखा गया है जो आईआईटी मंडी के विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में युवा प्रतिभाओं को प्रशिक्षित करने और उन्हें वर्तमान जॉब मार्केट के लिए तैयार करने में सहायक हैं।

इस सिलसिले में उन्होंने बताया, आईआईटी मंडी ने इंजीनियरिंग कौशल प्रदान करने के लिए पहली बार एचपीकेवीएन से हाथ मिलाया है जिसका पूरे राज्य को लाभ मिलेगा। व्यावहारिक ज्ञान देने वाले इन कोर्स के छात्र आईआईटी मंडी परिसर में रहने, विभिन्न लैब में प्रशिक्षण प्राप्त करने और अनुभवी फैकल्टी सदस्यों से सीखने का लाभ उठायेंगे।

एचपीकेवीएन स्कीम में सीसीई (आईआईटी मंडी) पांच नए कोर्स शुरू करेगा। इच्छुक उम्मीदवार आईआईटी मंडी की वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं।

उपरोक्त कोर्स का लाभ पीएमकेवीवाई (प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना) के तहत ऑटोमेशन और अन्य जॉब के लिए कौशल विकास करने में भी मिलेगा। कोर्स सफलतापूर्वक पूरा करने वाले सभी प्रतिभागियों को सेंटर फॉर कंटिन्यूइंग एजुकेशन, आईआईटी मंडी भागीदारी प्रमाण पत्र भी प्रदान करेगा।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement