Will be more than happy to do that: Hardik Pandya on full-time leadership role in future-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 4, 2022 7:08 am
Location
Advertisement

हार्दिक पांड्या ने कहा, भविष्य में भारतीय टीम की फुल टाइम कप्तानी करने पर ज्यादा खुशी होगी

khaskhabar.com : सोमवार, 08 अगस्त 2022 5:32 PM (IST)
हार्दिक पांड्या ने कहा, भविष्य में भारतीय टीम की फुल टाइम कप्तानी करने पर ज्यादा खुशी होगी
लॉडरहिल (फ्लोरिडा) । भारत ने पांचवें और अंतिम टी20 में वेस्टइंडीज पर 88 रन की बड़ी जीत दर्ज की। इसके बाद हरफनमौला हार्दिक पांड्या ने कहा कि वह भविष्य में राष्ट्रीय टीम की फुल टाइम कप्तानी की भूमिका के लिए तैयार हैं। पांड्या ने आईपीएल 2022 में अपने पहले खिताब के लिए गुजरात टाइटंस की कप्तानी की थी और जून में आयरलैंड पर भारत को 2-0 से टी20 श्रृंखला जीत दिलाई थी।

पांड्या ने मैच के बाद कहा, "हां! क्यों नहीं? अगर मुझे भविष्य में मौका मिलता है, तो मुझे ऐसा करने में बहुत खुशी होगी, लेकिन अभी हमारे पास एशिया कप और विश्व कप है। हम उस पर ध्यान केंद्रित करने जा रहे हैं।"

उन्होंने कहा, "अपने देश की अगुवाई करने का मौका मिलना बहुत खास है। वह मौका मिलना और जीत हासिल करना मेरे लिए कप्तान के रूप में बहुत मायने रखता है। मैं सिर्फ अपने कप्तान की भूमिकाओं को निभाना चाहता हूं।"

कप्तान रोहित शर्मा, विकेटकीपर ऋषभ पंत, तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव जैसे नियमित खिलाड़ियों को रविवार के मैच से आराम दिए जाने के बावजूद भारत ने 188 रन बनाए और वेस्टइंडीज को सिर्फ 100 रन पर समेट दिया।

उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि सभी खिलाड़ियों में जिस तरह की प्रतिभा है और जिस तरह की आजादी अब हमें मिल रही है। यह नया भारत है, जिस तरह से वे खेल रहे हैं। मैं बहुत से खिलाड़ियों को खुलकर खेलते हुए देख सकता हूं। मैं देख सकता हूं बहुत सारे लोग खुद को व्यक्त करते हैं और परिणाम के बारे में चिंता नहीं करते हैं, जो हमें एक टीम के रूप में और बेहतर बनाता है।"

रविवार का मैच भी पहली बार था, जब स्पिनरों ने टी20 मैच में सभी दस विकेट हासिल किए। बाएं हाथ के स्पिन ऑलराउंडर अक्षर पटेल ने पहले तीन विकेट लिए, जबकि लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने चार विकेट लिए और बाएं हाथ के स्पिनर कुलदीप यादव के नाम पर तीन विकेट रहा।

पांड्या ने कहा, "मैंने अक्षर को नई गेंद से गेंदबाजी कराई, और मैं चाहता था कि वह आत्मविश्वास वापस लाए और अच्छी गेंदबाजी करें। मुझे पता है कि वह किस तरह के गेंदबाज हैं, जब वह गेंदबाजी करते हैं, तो वह टीम के लिए मौके बनाते हैं, और कलाई के स्पिनरों के पास कुछ हथियार होते हैं, जहां बल्लेबाजों को उन्हें खेलना मुश्किल होता है।"

उन्होंने कहा, "यह प्लान नहीं था, लेकिन जाहिर है कि विकेट और बल्लेबाजों ने हमें दिखाया कि स्पिन एक बड़ा कारक होने जा रहा है। वे विकेट लेते रहे, मुझे ज्यादा कुछ नहीं करना पड़ा, मुझे केवल उन्हें गेंदबाजी देनी थी।"

पांड्या ने यह भी कहा कि भारत एशिया कप और टी20 विश्व कप सहित अपने आगामी कार्य के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा, "यह सिर्फ इस बारे में है कि हम कैसे बेहतर हो सकते हैं। मुझे लगता है कि तैयारी के अनुसार, हम 100 प्रतिशत तैयार हैं, लेकिन मुझे लगता है कि आप सीखना बंद नहीं कर सकते हैं।"

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement