Shaheed Bhagat Singh Youth Award, closed for the last several years, started, 6 youths got it-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 21, 2023 9:29 pm
Location
Advertisement

पिछले कई साल से बंद शहीद भगत सिंह यूथ अवार्ड शुरु, 6 युवाओं को मिला

khaskhabar.com : शुक्रवार, 24 मार्च 2023 07:31 AM (IST)
पिछले कई साल से बंद शहीद भगत सिंह यूथ अवार्ड शुरु, 6 युवाओं को मिला
हुसैनीवाला (फ़िरोज़पुर)। नौजवानों को समाज की निःस्वार्थ सेवा के लिए उत्साहित करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भगवंत मान ने 6 नौजवानों को शहीद भगत सिंह यूथ अवॉर्ड प्रदान किए। इनमें नवजोत कौर (बरनाला), मनोज कुमार (मानसा), बेअंत कौर (बठिंडा), ओमकार मोहन सिंह (रूपनगर), गुरजोत सिंह कलेर (मोहाली) और सुखदीप कौर (बठिंडा) हैं। इन नौजवानों की सराहना करते हुए भगवंत मान ने उम्मीद जताई कि ये नौजवान समाज की भलाई के लिए आगे भी रचनात्मक भूमिका निभाएंगे। इन अवार्डों का नाम शहीद भगतसिंह के नाम पर रखा है, जिनका देश के लिए दिया बलिदान हमेशा नौजवानों को प्रेरित करता रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने शहीद भगत सिंह युवा अवार्ड फिर शुरू करने का फ़ैसला किया है। यह अवार्ड हर साल अलग-अलग क्षेत्रों में लामिसाल योगदान देने वाले नौजवानों को दिया जाएगा। भगवंत मान ने अफ़सोस प्रकट किया कि यह अवार्ड 7 साल पहले बंद कर दिया गया था। लेकिन, अब सरकार ने इसको फिर शुरू किया है। मुख्यमंत्री ने दोहराया कि शहीद भगतसिंह ने छोटी उम्र में ही राष्ट्रीय स्वतंत्रता संग्राम में शामिल होकर देश को ग़ुलामी की जंजीरों से आज़ाद करवाने में अहम भूमिका निभाई। देश की बिना स्वार्थ सेवा करने के लिए शहीद-ए-आज़म हमेशा नौजवानों के लिए प्रेरणा का स्रोत रहेंगे। मान ने नौजवानों को न्यौता दिया कि मुल्क को प्रगतिशील और ख़ुशहाली की तरफ लेकर जाने के लिए शहीद भगत सिंह के पद-चिन्हों पर चलें।
मुख्यमंत्री ने हरेक गाँव में स्टेडियम बनाने के लिए ज़िला प्रशासन के उद्यम वाली नयी और निवेकली स्कीम खेल मैदान, हर पिंड दी पहचान की भी शुरुआत की। उन्होंने कहा कि इससे नौजवानों की अथाह ताकत को रचनात्मकता की तरफ़ लाने में मदद मिलेगी। भगवंत मान ने राज्य में खेल को उत्साहित करने के लिए नौजवानों का समूचा विकास यकीनी बनाने की राज्य सरकार की वचनबद्धता भी दोहराई। इस समय मुख्यमंत्री के साथ कैबिनेट मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर और अन्य लोग भी उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement