BMW recalls some 2022 electric cars over battery fire risk-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 1, 2022 8:29 am
Location
Advertisement

बैटरी आग के जोखिम के कारण बीएमडब्ल्यू ने कुछ इलेक्ट्रिक कारों को वापस बुलाया

khaskhabar.com : मंगलवार, 02 अगस्त 2022 4:44 PM (IST)
बैटरी आग के जोखिम के कारण बीएमडब्ल्यू ने कुछ इलेक्ट्रिक कारों को वापस बुलाया
सैन फ्रांसिस्को । बीएमडब्ल्यू ने अपनी कुछ इलेक्ट्रिक कारों के लिए रिकॉल जारी किया है, क्योंकि हाई वोल्टेज बैटरी 'आंतरिक क्षति हो सकती है', जिसके परिणामस्वरूप बिजली शॉर्ट सर्किट हो सकता है। बैटरी में आग लगने के जोखिम के कारण 2022 आई4 सेडान और आईएक्स एसयूवी की 'स्मॉल नंबर' के लिए रिकॉल नोटिस जारी किया गया है।

यूएस नेशनल हाईवे ट्रैफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन (एनएचटीएसए) के अनुसार, हाई वोल्टेज बैटरी में शॉर्ट-सर्किट से आग लगने का खतरा बढ़ जाता है।

प्रशासन ने एक बयान में कहा, "उत्तरी अमेरिका का बीएमडब्ल्यू, एलएलसी (बीएमडब्ल्यू) कुछ 2022-2023 आईएक्स एक्सड्राइव50, आईएक्स एम60, 2022 आई4 ईड्राइव40, और आई4 एम50 वाहनों को वापस बुला रहा है। इनमें उच्च वोल्टेज बैटरी में आंतरिक क्षति हो सकती है, जिसके परिणामस्वरूप बिजली शॉर्ट-सर्किट हो सकता है।"

मालिकों को सलाह दी जाती है कि वे अपने वाहनों को न चलाएं या चार्ज न करें और उपाय पूरा होने तक संरचनाओं से बाहर और दूर पार्क करें।

रिकॉल नोटिस में कहा गया है कि डीलर हाई वोल्टेज बैटरी को मुफ्त में बदलेंगे।

जून में दो और 'घटनाओं' की सूचना मिली था, जिसमें एक अमेरिका में 2022 आईएक्स एक्सड्राइव50 और दूसरा देश के बाहर 2022 आईएक्स एम60 शामिल है।

रिपोर्ट में सोमवार देर रात कहा गया, "दोनों को बैटरी सेल में मलबा पाया गया, जिसकी आपूर्ति सैमसंग एसडीआई द्वारा की जाती है।"

बीएमडब्ल्यू के एक प्रवक्ता ने कहा कि "सौभाग्य से, रिकॉल बहुत कम वाहनों को प्रभावित करता है।"

प्रवक्ता के हवाले से कहा गया, "हमारी ग्राहक संबंध टीम पहले ही प्रभावित वाहनों के सभी मालिकों से संपर्क कर सूचना और सहायता मुहैया करा रही है।"

जून में, फोर्ड मोटर ने बैटरी सुरक्षा चिंताओं पर लगभग 49,000 मस्टैंग मच-ई इलेक्ट्रिक क्रॉसओवर को वापस बुला लिया, और डीलरों को लोकप्रिय इलेक्ट्रिक वाहन की बिक्री अस्थायी रूप से रोकने के लिए कहा गया।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement